BREAKING NEWS:
IST 06:01:32 AM ⬤ पीडीए समर्थित जाप(लो•) के उम्मीदवार नवीन कुमार ने दर्ज कराया अपन

R K S | 15-10-2020 14:01:29

Sonebhardaexpress.com | Bihar News | Nerth East News | West Bengal News | Sikkim News | Purnea News |

Khagaria:

बीजेपी के बागी बाबूलाल शौर्य होंगे परबत्ता से लोजपा प्रत्याशी खगड़िया/सोनभद्र एक्सप्रेस चुनाव आते ही विभिन्न पार्टियों में अंदर बाहर, मान मनौती, सह मात की कवायद शुरू हो जाती है। पार्टियों खींच तान एवं आने-जाने का दौर प्रारंभ हो जाता है कुछ पार्टी कार्यकर्ता को छोड़ देती है ।तो वही कुछ कार्यकर्ता पार्टी को छोड़ देते हैं।वहीं शीर्ष नेतृत्व के तानाशाह फैसलों से नाखुश होकर कुछ जमीनी

स्तर के कार्यकर्ताओं को आघात पहुंचता है। जहां कुछ कार्यकर्ता शीर्ष नेतृत्व के फैसले को स्वीकार करती है तो वहीं कुछ कार्यकर्ता पार्टी के फैसले से क्षुब्ध होकर पार्टी को छोड़ना या फिर बगावत करना उचित मार्ग समझते हैं ।मालूम हो बिहार विधानसभा की चुनावों की तारीखों के एलान के बाद खगड़िया जिले में दुसरे चरण में मतदान होने जा रहा है। जिसमें नामांकन की आखिरी तिथि 16 अक्टूबर तक है। लेकिन

ंत अंत तक बड़े-बड़े नए फैसले जहां पार्टी केे कार्यकर्ताओं को तो चौक आते ही हैं तो वही आम जनता भी असमंजस से भर जाती है ।मालूम हो कुछ दिनोंं पहले जदयू के सैकड़ों कार्यकर्ता शीर्ष नेतृत्व्व्व की तानाशाही फैसले को लेकर पार्टी से बगावत पर उतर आई और पार्टी के विरुद्ध अपने प्रत्याशी को विधानसभा चुनाव में खड़ा किया ।जहां सैकड़ों कार्यकर्ता मर्माहत होकर चुनाव में निर्दलीय लड़ना हीं उच

त समझा। अभी ताजा मामले में भाजपा का एक भी सीट खगड़िया जिले में नहीं होने के कारण भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी पार्टी से इस्तीफा देना उचित समझा तो वही कुछ समर्पित कार्यकर्ता ने दूसरी पार्टी जॉइन कर ली ।उन्हीं कुछ कार्यकर्ताओं में एक नाम बाबूलाल शौर्य काम भी आता है जिन्होंने सीट बंटवारे से पूर्व खासी मेहनत कर जिले की जनता के बीच भाजपा का झंडा बुलंद करने का काम किया था। लेकिन पार्टी के फ

सले को नामंजूर कर उन्होंने लोजपा की सदस्यता ली और मजे की बात यह है कि उन्हें लोजपा के परबत्ता विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी घोषित किया गया।रही परबत्ता से अब तक करीब आधा दर्जन प्रत्याशियों ने अपना नामांकन दाखिल करवा लिया है। मिली जानकारी के अनुसार लोजपा के उम्मीदवार बाबूलाल शौर्य शुक्रवार 16 अक्टूबर को गोगरी अनुमंडल में अपना नामांकन करवाएंगे। वहीं उनके इस फैसले को शौर्य के समर्

थकों में काफी सराहना मिल रही है। अभी से अग्रिम बधाई के संदेश भी आने प्रारंभ गए हैं। सोनभद्र समाचार पत्र से बातचीत के दौरान बाबूलाल शौर्य ने बताया की जिले में मेरा यह फैसला पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को एक बड़ा झटका है। वही जो प्यार हमें परबत्ता विधानसभा क्षेत्र की जनता से मिलता आया है आज तक मैंने जो जनहित में कार्य किए हैं कमजोर पिछड़े वर्ग की आवाज को जो बुलंद करने का मैंने काम किया है

सका मेहनताना मुझे परबत्ता विधानसभा क्षेत्र की जनता अवश्य देगी। बाबूलाल शौर्य भारतीय जनता पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता थे .वही वह एक सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं . उन्होंने अपने क्षेत्र में कई मुद्दों को सुलझाने के लिए अथक प्रयास किया है . इस प्रक्रिया में उन्होंने आमरण अनशन कई बार किया . कभी - कभी उनका आमरण अनशन महीनों चलता था .बताते चलें कि बाबूलाल शौर्य खगड़िया जिले ही नहीं पूरे बिह

र भर में हंगर स्ट्राइकर के नाम से प्रचलित हैं बाबू लाल शौर्य ने समाज में व्याप्त विसंगतियों को दूर करने एवं कई एक सामाजिक कार्यो को करवाने के लिए धरना पर बैठने का काम किया है हाल ही में डेगराही पुल निर्माण को लेकर उनका धरना पर बैठना पूरे जिला सहित प्रदेश स्तर पर भी चर्चा का विषय बना हुआ था. वे भौतिकी के बहुत ही प्रतिभाशाली छात्र थे . उन्होंने उत्कृष्ट अंकों के साथ भौतिकी में स्नातक क

ी उपाधि प्राप्त की थी . सिस्टम से लड़ने की प्रक्रिया में , उन्हें कई बार जेल हुई . वह परबत्ता ( खगड़िया , बिहार ) के निवासी हैं .देखने वाली बात है की बाबूलाल शौर्य कहां तक अपने मकसद में सफल हो पाते हैं।