BREAKING NEWS:
IST 06:01:32 AM ⬤ पीडीए समर्थित जाप(लो•) के उम्मीदवार नवीन कुमार ने दर्ज कराया अपन

ऑटो चालक की हत्या ने साफ कर दिया कि खाकी पुलिस की दविश हुई खत्म

R K S | 05-01-2019 20:28:54

ऑटो चालक की हत्या ने साफ कर दिया कि खाकी पुलिस की दविश हुई खत्म Sonebhardaexpress.com | Bihar News | Nerth East News | West Bengal News | Sikkim News | Purnea News |

सहरसा:

फोटो-0168 सहरसा, निज संवाददाता। सदर थाना क्षेत्र में अपराधियो का तांडव अपने सुरर पर है। दिन दहाड़े गोलीबारी और देर शाम ऑटो चालक की हत्या ने साफ कर दिया कि खाकी पुलिस की दविश हुई खत्म। इस दो घटना ने पूरे शहर की आम आवाम के जेहन में जहां दहशत पैदा कर दी है वहीं खाकी वर्दी की नींद उड़ाकर रख दी है। बताते चलें की देर शाम सदर थाना के सहरसा बस्ती निवासी मोहम्मद चाँद को अपराधी ने गोली मार दी। उसे आनन-

फनान में इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया जहां उसकी मौत हो गयी। गोली पेट मंे लगी थी। परिजन बस्ती के एक अपराधी छवि केसीटियां नामक युवक पर गोली मारने का लगा रहे हैं आरोप। सूचना मिलते ही सदर थानाध्यक्ष राकेश कुमार सिंह सदलबल सदर अस्पताल पहुंचकर मामले की तहकीकात करने में जुटे थे। वही गुस्साएं लोगों ने प्रशासन की विफलता व अपराधियों का खूलेआम तांडव को लेकर शनिवार को शव को सड़क पर रखकर कात

िल की अविलंब गिरफ्तारी व प्रशासन की विफलता को लेकर यातायात बाधित करते हुए आगजनी और प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया। बताते चलें कि मृतक चाँद रोज की तरह ऑटो चलाकर अलीनगर स्थित अपने घर पहुंचा ही था कि बाइक सवार होकर आए दो अपराधियों ने गोली से छलनी कर दी और मौके से फरार हो गया। अनान-फनान में परिजन सदर अस्पताल लाया जहां उसकी मौत हो गयी। सबसे पहले हम आपको सदर अस्पताल का नजारा दिखा रहे है दे

िये अस्पताल में डॉक्टर ने जब मौत की पुष्टि की तो किस तरह परिजन और सैकड़ों पब्लिक उग्र होकर अस्पताल में हंगामा करने में लगे है। वहीं पोस्टमार्टम के बाद उग्र पब्लिक व परिजन ने सदर थाना के डुमरेल चैक पर शव को रखकर एनएच 107 को जाम कर देखिये किस तरह आगजनी करते हुए शहर में गिरती कानून ब्यबस्था को लेकर पुलिस प्रशासन के खिलाफत जमकर प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं खुद एसडीपीओ और कई थाना की पुलिस उग्र

भीड़ को समझाने की कोशिश कर रहे है। लेकिन उग्र भीड़ पुलिस और अपराधी की सांठगांठ के कारण लगातार हो रहे आपराधिक घटनाओं को लेकर पुलिस के खिलाफ आग उगल ही नही रहे हंै बल्कि आरपार की लड़ाई का शंखनाद भी कर रही है। वहीं इस बेखौफ लगातार हो रहे आपराधिक घटनाओं को लेकर सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने मीडिया से रूबरू हुए। उग्र प्रदर्शनकारी अपराधी की अबिलम्ब गिरफ्तारी और मृतक के परिजन को मुआवजे की मा

ग करते हुए पुलिस प्रशासन की गिरती साख और विफलताओं को लेकर जामस्थल पर डटे हुए थे। घंटों बाद पहुंची भारी संख्या में पुलिस बल के साथ सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी व सदर प्रखंड के बीडीओ अमरेन्द्र कुमार अमर ने मृतक के पिता को पारिवारिक लाभ योजना का बीस हजार का चेक दिया व जल्द ही आरोपी के गिरफ्तारी के अश्वासन देने के बाद जाम हटाया गया।